दर्द भरी हिंदी शायरी , HINDI SHAYARI , जखम सह सह कर भी हम मुस्कुराते गए






दिल की धड़कन सुनाकर बताया है तुझे
मन से मुराद मांग कर पाया है तुझे
भूलना चाहूँ भी तो कैसे भुलाऊ
अपनी जान से ज्यादा चाहा है तुझे ,,






दर्द से गहरा रिस्ता हम निभाते गए
जो सितम तुमने किये हम उठाते गए
वक्त ने बदल दिया मेरा प्यार यारो
जखम सह सह कर भी हम मुस्कुराते गए





हर मौसम में आपका आना सुहाना लगे
हर वक्त आपसे नजरे मिलाना सुहाना लगे
आपको हमे भूलने में शायद वक्त ना लगे
लेकिन हमे आपको भूलने में शायद जमाना लगे ,,




उन्हें फुरसत नहीं मिलने की हमसे
और हमारा वक्त गुजरता है उन्हें याद करके
अगर आये वो मेरी मौत पे
तो कह देना अभी सोये है तुम्हे याद करके ,



दोस्तों अगर आप भी हमे अपने कुछ ख्याल , या शायरी भेजना चाहते है और चाहते है की आपकी शायरी आपके नाम से इस वेबसाइट पर छपे तो आप हमे इंस्टाग्राम पर फॉलो कर सकते है और वहा हमे अपनी शायरी भेज सकते है , हम आपकी शायरी को आपके नाम से ही इस वेबसाइट में छापेंगे , हमारी इंस्टाग्राम id है 
rahul.rana2445 

 

Comments