किसी की याद में तड़पने की आदात नहीं थी मुझे पर अपनी यादो में तड़पाना सीखा गया कोई best hindi shayari



गम ना हो जहॉ हो ठिकाना तेरा 

खुशिया ढूंढ़ती रहे आशियाना तेरा 

वो वक्त ही ना आये जब तू उदास हो 

ये दुनिया भुला ना पाए मुस्कुराना तेरा ,,




मंजिलो से अपनी दूर ना जाना 

रास्तो की परेशानियों से टूट ना जाना 

जब भी जरूरत हो जिन्दागी में किसी अपने की 

हम आपके अपने है ये भूल ना जाना ,,




वक्त गुजरता रहा पर सांसे थमी सी थी 

मुस्करा रहे थे हम पर आँखों में नमी सी थी 

मेरे साथ था ये जमाना सारा 

पर ना जाने क्यों उस एक की कमी सी थी ,,





रह रह कर आपकी याद आये तो क्या करे 

आपकी याद दिल से ना जाए तो क्या करे 

सोचा था ख्वाबो में मुलाकात होगी आपसे 

पर ख़ुशी से हमे नींद ही ना आये तो क्या करे ,,




दिल की किताब का पन्ना चुरा ले गया कोई 

आँखों से नींद उड़ा ले गया कोई 

किसी की याद में तड़पने की आदात नहीं थी मुझे 

पर अपनी यादो में तड़पाना सीखा गया कोई 


 

No comments:

Post a Comment